Sas bahu ki marwadi kavita

सास बहु की मारवाड़ी कविता: मत कर सासु बेटो बेटों ओ तो मिनख हमारो है जद पहनतो बाबा सूट जद ओ गुड्डू थारो हो अब ओ पहरे कोट पेंट.   अब ओ डार्लिंग म्हारो है जद ओ पीतो बोतल में दूध … Continue reading