Tere paas jo hai

“तेरे पास जो है उसमें सब्र कर और उसकी कद्र कर दीवाने, यहाँ तो आसमां के पास भी खुद की जमीं नही…”

Baarish

“मैं ख़ास तो नहीं मगर बारिश की उन कतरों की तरह अनमोल हूँ, जो मिट्टी में समां जाएं तो फिर कभी नहीं मिला करते..”

RIP ABDUL KALAM

आसमां के साथ आज तो “कलम” भी रो पड़ी…. कि क्या लिखू उस “कलाम” के लिये…. जिस भारत के “लाल” ने ताउम्र “कमाल” कर दिया….. शत् शत् नमन … Continue reading

Baar baar

बार बार रफू करता रहता हूँ जिन्दगी की जेब… कम्बखत फिर भी निकल जाते हैं खुशियों के कुछ लम्हें…II

Indian railway ki journey

भारतीय रेल की जनरल class का सफ़र…. अच्छा लिखा है. जरूर पढे…. . . रेल की जनरल बोगी पता नहीं आपने कभी भोगी कि नहीं भोगी एक बार हम भी कर रहे थे यात्रा प्लेटफार्म पर देखकर सवारियों की मात्रा … Continue reading

Baarish mai

💕💕हमने उड़ाई है बारिशों में पतंगे,,ज़िन्दगी के मायने हमसे क्या पूछते हो।।💕💕