Happy mothers day

Dedicated to all mothers – कोई औरत जब थपकी से, अपने बच्चे को सुलाती है! खुद तो धूप सहती है, बच्चे को आँचल ओढ़ाती है! तो यह देख कर, माँ तुम्हारी याद आती है!! पालने में सोता सोता, अचानक चौक … Continue reading

एक  विवाहित बेटी का पत्र उसकी माँ के नाम “माँ तुम बहुत याद आती हो” अब मेरी सुबह 6 बजे होती है और रात 12 बज जाती है,              तब “माँ तुम बहुत याद आती हो” सबको गरम गरम परोसती … Continue reading

Jab beti ghar se vida ho jayegi

ये घर दरो दीवार सब तरसेंगे जब बर्तन खन खन खनकेंगे सारे पकवान फ़ीके पड़ जायेंगे जब बेटी घर से विदा हो जायेगी. बात बात पर उसका नाम मेरी जुबां पे कभी तेरी जुबां पे सांसें बहन की अटकी रह … Continue reading

Sas bahu ki marwadi kavita

सास बहु की मारवाड़ी कविता: मत कर सासु बेटो बेटों ओ तो मिनख हमारो है जद पहनतो बाबा सूट जद ओ गुड्डू थारो हो अब ओ पहरे कोट पेंट.   अब ओ डार्लिंग म्हारो है जद ओ पीतो बोतल में दूध … Continue reading

Father

जब मम्मी डाँट रहीं थी तो कोई चुपके से हँसा रहा था, वो थे पापा. . . . जब मैं सो रहा था तब कोई चुपके से सिर पर हाथ फिरा रहा था , वो थे पापा. . . . … Continue reading