Ek pati ki kalam se

एक पति की कलम से…. “मेरी पत्नी  शिक्षक नही, पर बच्चों की सबसे बड़ी गुरु वही है । वो चिकित्सक भी नही, पर हमारे हर मर्ज का इलाज है उसके पास। वो एम.बी.ए. भी नही, पर घर/बाहर का मेनेजमेन्ट जानती … Continue reading

Sapne mai

सपने मे अपनी मौत को करीब से देखा….😓 कफ़न में लिपटे तन जलते अपने शरीर को देखा…..😭 खड़े थे लोग हाथ बांधे एक कतार में… कुछ थे परेशान कुछ उदास थे ….. पर कुछ छुपा रहे अपनी मुस्कान थे.. दूर … Continue reading

Jamane mai dost

रहता हूं किराये की काया में… रोज़ सांसों को बेच कर किराया चूकाता हूं…. मेरी औकात है बस मिट्टी जितनी… बात मैं महल मिनारों की कर जाता हूं… जल जायेगी ये मेरी काया ऐक दिन… फिर भी इसकी खूबसूरती पर … Continue reading

Smile always

:)मुस्कुराओ….. क्योंकि परिवार में रिश्ते तभी तक कायम रह पाते हैं जब तक हम एक दूसरे को देख कर मुस्कुराते रहते है” :)मुस्कुराओ…. क्योंकि यह मनुष्य होने की पहली शर्त है। एक पशु कभी भी नहीं मुस्कुरा सकता।” :)मुस्कुराओ….. क्योंकि … Continue reading

Happy independence day

ऐ वतन ए हिन्द .. दी है तेरे माटी ने पनाह ; मुझ पर ये अहसान है ; जन्म मिली इस धरा पर ; मुझको ये अभिमान है ! ए वतन है हिन्द तेरे खातिर ; हम कुछ कर गुजर … Continue reading

Shakuni

अर्जुन भीम युधिष्ठिर सारे समा गए इतिहास में !!  पर शकुनी वाले “पासे” अब भी हैं कुछ लोगों के पास में !!