Mera sahar ab badal chala hai

कुछ अजीब सा माहौल हो चला है, मेरा शहर अब बदल चला है…. ढूंढता हूँ उन परिंदों को, जो बैठते थे कभी घरों के छज्ज़ो पर शोर शराबे से आशियाना अब उनका उजड़ चला है, मेरा शहर अब बदल चला … Continue reading

Joint family

बहुत सुँदर पंक्तियाँ संयुक्त परिवार वो पंगत में बैठ के निवालों का तोड़ना, वो अपनों की संगत में रिश्तों का जोडना, वो दादा की लाठी पकड़ गलियों में घूमना, वो दादी का बलैया लेना और माथे को चूमना, सोते वक्त … Continue reading

Kaash fir milne

चार लाइन दोस्तों के नाम- काश फिर मिलने की वजह मिल जाए साथ जितना भी बिताया वो पल मिल जाए, चलो अपनी अपनी आँखें बंद कर लें, क्या पता ख़्वाबों में गुज़रा हुआ कल मिल जाए…

Pani tere kitne naam

पानी तेरे कितने नाम………. पानी आकाश से गिरे तो………..बारिश, आकाश की ओर उठे तो………….भाप, अगर जम कर गिरे तो…………….ओले, अगर गिर कर जमे तो……………..बर्फ, फूल पर हो तो…………………… ओस, फूल से निकले तो…………………इत्र, जमा हो जाए तो…………………. झील, बहने लगे … Continue reading

Apni galti

Best Poem (share it to all) -🙏 पैर की मोच और छोटी सोच, हमें आगे बढ़ने नहीं देती । टुटी कलम और औरो से जलन, खुद का भाग्य लिखने नहीं देती । काम का आलस और पैसो का लालच, हमें … Continue reading