Indian railway ki journey

भारतीय रेल की जनरल class का सफ़र…. अच्छा लिखा है. जरूर पढे…. . . रेल की जनरल बोगी पता नहीं आपने कभी भोगी कि नहीं भोगी एक बार हम भी कर रहे थे यात्रा प्लेटफार्म पर देखकर सवारियों की मात्रा … Continue reading

Har hosle ko ajmana chahta hu

होंसले को आजमाना चाहता हूँ। इक नया जोखिम उठाना चाहता हूँ । कामयाबी देखना मिलकर रहेगी , मुश्किलों को बस हराना चाहता हूँ । वह गजल लिखकर रहूंगा जिंदगी की , जो लबों पर गुनगुनाना चाहता हूँ । अब उदासी … Continue reading

Maine har roz jamane ko

मैंने .. हर रोज .. जमाने को .. रंग बदलते देखा है …. उम्र के साथ .. जिंदगी को .. ढंग बदलते देखा है .. !! वो .. जो चलते थे .. तो शेर के चलने का .. होता था … Continue reading

Akal badi ya bhains

अक्ल बङी या भैंस (हास्य-व्यंग) महामूर्ख दरबार में, लगा अनोखा केस फसा हुआ है मामला, … अक्ल बङी या भैंस अक्ल बङी या भैंस, दलीलें बहुत सी आयीं महामूर्ख दरबार की अब,देखो सुनवाई मंगल भवन अमंगल हारी- भैंस सदा ही … Continue reading

Mera sahar ab badal chala hai

कुछ अजीब सा माहौल हो चला है, मेरा शहर अब बदल चला है…. ढूंढता हूँ उन परिंदों को, जो बैठते थे कभी घरों के छज्ज़ो पर शोर शराबे से आशियाना अब उनका उजड़ चला है, मेरा शहर अब बदल चला … Continue reading

Antim yatra

किसी शायर ने अपनी अंतिम यात्रा का क्या खूब वर्णन किया है….. था मैं नींद में और मुझे इतना सजाया जा रहा था…. बड़े प्यार से मुझे नहलाया जा रहा था…. ना जाने था वो कौन सा अजब खेल मेरे … Continue reading